Saturday, June 22, 2024
Homeस्पोर्ट्सपोखरा में इंडो-नेपाल इंटरनेशनल चैंपियनशिप 2024 में प्रांजल मित्तल ने जीत हासिल...

पोखरा में इंडो-नेपाल इंटरनेशनल चैंपियनशिप 2024 में प्रांजल मित्तल ने जीत हासिल की

15 वर्षीय 10वीं कक्षा के छात्र प्रांजल मित्तल ने नेपाल के खूबसूरत शहर पोखरा में आयोजित इंडो-नेपाल इंटरनेशनल चैंपियनशिप 2024 में शानदार जीत हासिल की है। इस प्रतिष्ठित आयोजन ने प्रांजल की असाधारण प्रतिभा और अपने खेल के प्रति समर्पण को प्रदर्शित किया, जिसने उन्हें अत्यधिक प्रतिस्पर्धी क्षेत्र से अलग खड़ा किया।

इंडो-नेपाल इंटरनेशनल चैंपियनशिप भारत और नेपाल दोनों के बेहतरीन युवा एथलीटों को एक साथ लाने के लिए प्रसिद्ध है, जिससे प्रांजल की जीत और भी महत्वपूर्ण हो गई। उनके बेहतरीन प्रदर्शन और खेल भावना ने उन्हें चैंपियनशिप का खिताब दिलाया, जो उनकी कड़ी मेहनत और कौशल का प्रमाण है।

प्रांजल मित्तल ने कहा, “मैं इस चैंपियनशिप को जीतकर बेहद सम्मानित महसूस कर रहा हूं।” “प्रतियोगिता कठिन थी और मुझे कई प्रतिभाशाली प्रतिद्वंद्वियों का सामना करना पड़ा। यह जीत मेरे परिवार, कोच और स्कूल के अटूट समर्थन के बिना संभव नहीं थी। मैं भविष्य की प्रतियोगिताओं के लिए कड़ी मेहनत और अपने कौशल में सुधार जारी रखने के लिए उत्साहित हूं।”

प्रांजल की उपलब्धि उनके खेल के प्रति समर्पण, दृढ़ता और जुनून को दर्शाती है। उनकी जीत ने न केवल उनके परिवार और स्कूल को बहुत गौरवान्वित किया है, बल्कि पूरे क्षेत्र में उनके साथियों और युवा एथलीटों के लिए प्रेरणा का स्रोत भी है।

10वीं कक्षा के छात्र के रूप में, प्रांजल ने अपने कठिन प्रशिक्षण कार्यक्रम के साथ अपनी शैक्षणिक जिम्मेदारियों को कुशलतापूर्वक संतुलित किया है, उल्लेखनीय अनुशासन और समय प्रबंधन का प्रदर्शन किया है। इंडो-नेपाल अंतर्राष्ट्रीय चैंपियनशिप में उनकी सफलता उत्कृष्टता प्राप्त करने में समर्पण और कड़ी मेहनत के महत्व को रेखांकित करती है।

पोखरा में चैंपियनशिप खेल भावना और सांस्कृतिक सौहार्द का उत्सव था, जो भारत और नेपाल के बीच मजबूत बंधन को दर्शाता है। प्रांजल की जीत इस एकता और खेलों में उत्कृष्टता की साझा खोज का प्रतीक है।

भारत-नेपाल अंतर्राष्ट्रीय चैम्पियनशिप के बारे में:


भारत-नेपाल अंतर्राष्ट्रीय चैम्पियनशिप एक वार्षिक आयोजन है जो भारत और नेपाल के युवा एथलीटों को मित्रता और प्रतिस्पर्धा की भावना से प्रतिस्पर्धा करने के लिए एक साथ लाता है। इस चैम्पियनशिप का उद्देश्य दोनों देशों के युवाओं के बीच सांस्कृतिक आदान-प्रदान को बढ़ावा देना और खेल भावना को बढ़ावा देना है।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments