Tuesday, April 16, 2024
Homeधर्मंअयोध्या में लाखों श्रद्धालुओं की भीड़ से चौंकी सरकार, सीएम को करना...

अयोध्या में लाखों श्रद्धालुओं की भीड़ से चौंकी सरकार, सीएम को करना पड़ा हवाई निरीक्षण

अयोध्या में भगवान रामलला की मूर्ति की प्राण प्रतिष्ठा के बाद श्रद्धालुओं के लिए राम मंदिर खोल दिया गया है. प्राण प्रतिष्ठा के अगले दिन मंगलवार (23 जनवरी) को रामलला के दर्शन के लिए श्रद्धालुओं की इस कदर भीड़ हुई कि उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्याथ को हवाई निरीक्षण करना पड़ गया.

सूत्रों के मुताबिक, अव्यवस्था की खबरों पर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ नाराज भी हुए, जिसके बाद अधिकारियों को लखनऊ से अयोध्या आना पड़ा. सूत्रों के मुताबिक, सीएम योगी आदित्यनाथ ने राम मंदिर में भी व्यवस्थाओं का जायजा लिया. इस दौरान प्रमुख सचिव गृह संजय प्रसाद और स्पेशल डीजी प्रशांत कुमार उनके साथ मौजूद रहे.

कितने श्रद्धालुओं ने किए रामलला के दर्शन?

सूत्रों के मुताबिक, मंगलवार (23 जनवरी) को करीब 3 लाख श्रद्दालुओं ने रामलला के दर्शन कर लिए हैं और इतनी ही संख्या में भक्त दर्शन करने का इंतजार कर रहे हैं. श्रद्धालुओं को दर्शन कराने के लिए स्थानीय प्रशासन लगातार इंतजाम कर रहा है. स्थिति अब नियंत्रण में बताई जा रही है. भक्तों के सुचारू दर्शन के लिए 8000 से ज्यादा  सुरक्षाकर्मी तैनात किए गए हैं.

सूत्रों ने बताया कि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने राम मंदिर निर्माण समिति के अध्यक्ष नृपेंद्र मिश्रा के साथ एक बैठक की है. निकास मार्गों के पुनर्निर्माण और संपूर्ण तीर्थयात्रा योजना को लेकर बैठक हुई है.

अयोध्या पुलिस ने अफवाह का किया खंडन

अयोध्या पुलिस ने भीड़ के कारण रामलला के दर्शन को अस्थायी रूप से बंद किए जाने की खबर का खंडन किया है. अयोध्या पुलिस ने X पर एक पोस्ट के माध्यम से कहा, ”कतिपय सोशल मीडिया के माध्यम से असत्य खबर फोटो के साथ सार्वजनिक रुप से प्रसारित की जा रही है कि जनपद अयोध्या में श्रद्धालुओं की कई किलोमीटर लंबी भीड़ की वजह से श्री रामलला का दर्शन अस्थायी रूप से बंद किया गया है. अयोध्या पुलिस इस असत्य और भ्रामक खबर का खंडन करती है.”

हम नई व्यवस्था बना रहे हैं- डीजीपी विजय कुमार

उत्तर प्रदेश के डीजीपी विजय कुमार ने मीडिया से कहा, ”प्राण प्रतिष्ठा समारोह में यूपी पुलिस के जवानों और अधिकारियों ने बहुत मेहनत की और इसको सफल बनाया… अब ज्यादा दर्शनार्थियों के आने की संभावना है, उसके लिए हम नई व्यवस्था बना रहे हैं… पर्याप्त मात्रा में फोर्स उपलब्ध कराई गई है…”

आचार्य सत्येंद्र दास ने श्रद्धालुओं से की ये अपील

अयोध्या में बड़ी संख्या में श्रद्धालुओं के आने पर श्रीराम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र के मुख्य पुजारी आचार्य सत्येंद्र दास ने कहा, ”…सभी दर्शनार्थियों को मैं रामलला की ओर से प्रार्थना करता हूं, अपील करता हूं कि किसी प्रकार से ज्यादा उत्तेजित न हों और घबराएं नहीं कि दर्शन नहीं होगा, सभी को दर्शन मिलेगा.” 

उन्होंने कहा, ”आज देखिए 7 बजे से दर्शन जो शुरू हुआ है वो लगातार चल रहा है क्योंकि जो हम दो घंटे के लिए विश्राम करते थे 12 बजे से 2 बजे तक, उस विश्राम को भी नहीं किया है और बराबर चल रहे हैं. इसलिए भक्तों धैर्य और शांति से दर्शन करें, जिससे सभी को दर्शन मिल जाए और किसी प्रकार की दुर्घटना न हो सके. यह अयोध्या धाम है और जिस प्रकार से आप लोगों का उत्साह है, यह उत्साह बहुत ही प्रशंसनीय है कि भगवान राम के प्रति आप लोग किस प्रकार से दर्शन करने के लिए लालायित हैं…”

तड़के 3 बजे से दर्शन के लिए लाइन में लग गए थे श्रद्धालु

जानकारी के मुताबिक, अयोध्या में भगवान श्री रामलला का दर्शन करने के लिए सुबह 3:00 से राम भक्त लाइन में लगे हुए हैं. दर्शन करने के लिए दूसरी पाली में राम भक्तों का हुजूम उमड़ पड़ा. भक्त सुबह से ही अपनी बारी का इंतजार कर रहे है लेकिन अचानक से भीड़ इतनी बढ़ गई कि वह बेकाबू होती सी दिखी. सुरक्षा में तैनात सिपाही भीड़ को काबू नहीं कर पाए और दर्शनार्थी बैरिकेडिंग को तोड़ते हुए अंदर प्रवेश कर गए.

बता दें कि पहले सुबह 8 मंदिर खुलना था लेकिन 7 बजे ही खोला गया. रात 10 बजे तक मंदिर में दर्शन हो पाएंगे. राम मंदिर के ट्रस्ट अनुसार, प्रतिदिन एक लाख श्रद्धालुओं को दर्शन कराने की योजना तैयार की गई थी.

श्रद्धालु रामलला के दर्शन के लिए लोग दो-तीन दिन से रुके हुए थे. कई राज्यों से श्रद्धालु अयोध्या पहुंच रहे हैं. हर कोई जल्द से जल्द दर्शन करना चाहता है. 

SourceABP
RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments